10:06 Mon, Jul 22, 2024 IST
jalandhar
polution 66 aqi
29℃
translate:
Mon, Jul 22, 2024 11.26AM
jalandhar
translate:

STCBSF  एफ खड़का कैंप वेस्टर्न जोन का पहला सेंटर है यहां मेहलाएं ट्रेनिंग करती है: IG सिंधू कुमार

PUBLISH DATE: 03-07-2024

 STCBSF  एफ खड़का कैंप वेस्टर्न जोन का पहला सेंटर है यहां मेहलाएं ट्रेनिंग करती है: IG सिंधू कुमार


 


राष्ट्रीय एजेंसी द्वारा एस टी सी बी एस एफ खड़का का निरीक्षण किया और अति उत्तम का दर्जा दिया/आई जी सिंधू कुमार
होशियारपुर=दलजीत अजनोहा



 एस टी सी बी एस एफ ( सहायक प्रशिक्षण केंद्र सीम सुरक्षा बल) खड़का कैंप और बी एस एफ के वारे में आई जी सिंधू कुमार जी से वरिष्ट  संवाददाता दलजीत अजनोहा की ओर से विशेष तौर पर बातचीत की गई जिस दौरान उन्होंने  बताया के 1962 और 1965 में हुए युद्ध के समय स्टेट आर्म्ड पुलिस थी और भारत के साथ पाकिस्तान और बंगला देश का बॉर्डर पर बही गार्ड करती थी  उस समय  देखा गया  के उनमें गार्ड करते कोई संपर्क नहीं था कोई ट्रेनिग भी नही थी बॉर्डर पर कहां से क्या हो रहा है या फिर किस तरह से किसी भी संदिग्ध परिस्थितियों का सामना किस तरह से करना है था तो उस समय सरकार को लगा   के इस तरह कोई फोर्स बनाई जाए जो शांति के समय बॉर्डर पर रक्षा करे और जो वहां पर काम करते है इनकी सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखे और वार (युद्ध )के समय आर्मी के साथ गाइड का कार्य करे और साथ ही कंधे से कंधा मिलाकर युद्ध में साथ दे तो उस समय के प्रधान मंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी की ओर से 1दिसंबर 1965 को 25 स्टेट आर्म्ड बटालियन को मिला कर बी एस एफ त्यार की गई थी


और उस समय के एफ रुस्तम जी आई पी एस डायरेक्टर जोनल थे यह भारत के प्रमुख अर्ध सैनिक बल और देश का सब से बड़ा सीमा सुरक्षा बल है जिस का उद्देश्य था भारत की प्रमुख सीमाओं पर निरंतर निगरानी करना,भारत भूमी की रक्षा और अंतर्राष्ट्रीय अपराध को रोकना है और इस समय देश में बी एस एफ की 192 बटालियन हैं उन्होंने बताया के बी एस एफ मैं कांस्टेबल और एस आई की भर्ती प्रक्रिया एस एस सी बोर्ड द्वारा की जाती है जब के ऑफिशियल भर्ती यू पी एस सी बोर्ड द्वारा की जाती है उन्होंने बताया के बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए बी एस एफ में महिलाओं की भर्ती वेस्टर्न फ्रंटियर 2008 में जी डी के लिए शुरू हुई थी उन्होंने एस टी सी बी एस एफ खड़का कैंप के बारे में बताया के पहले एस टी सी बी एस एफ 1 मार्च 1968  को जालंधर में बनी थी और 25 अप्रैल 1979 को 



एस टी सी बी एस एफ खड़का कैंप होशियारपुर में आ गई और यह सहायक प्रशिक्षण केंद्र सीमा सुरक्षा बल 898 एकड़ 2कनाल 5 मरले रकबे में फैला हुआ है और अब तक यहां से 35189 नौजवान और युवतियां ट्रेनिग पास कर देश के विभिन्न भागों में अपनी सेवाए दे रहे है जिन में 30189 नौजवान और 5000 युवितयां शामिल है


और माजूदा समय में कुल 1402 लोग ट्रेनिंग कर रहे है जिन में 336 नौजवान और 1066 लड़कियां ट्रेनिंग कर रहे और इनका प्रशिक्षण 44 सप्ताह का होगा  पासिंग आउट होने के बाद यह भी अपनी सेवाए देने के लिए देश के विभिन्न भागों में जाएंगे उन्होंने बताया के  एस टी सी बी एस एफ खड़का कैंप में रहते हुए किसी भी क्षेत्र में बढ़िया प्रदर्शन करने वालों को उच्च अधिकारियों की ओर समय समय पर सम्मानित भी किया जाता है उन्होंने बताया के पिछले सप्ताह राष्ट्रीय एजेंसी द्वारा एस टी सी बी एस एफ में जवानों को दी जाने वाली ट्रेनिंग, सुविधाएं और अन्य चेकिंग की जिस में  राष्ट्रीय एजेंसी द्वारा उनके सेंटर को अति उत्तम का दर्जा दिया