10:55 Mon, Jul 22, 2024 IST
jalandhar
polution 66 aqi
29℃
translate:
Mon, Jul 22, 2024 11.26AM
jalandhar
translate:

सलमान फायरिंग केस- बिश्नोई गैंग से जुड़े तार, लॉरेंस का भाई दे रहा था फोन पर इंस्ट्रक्शन 

PUBLISH DATE: 22-06-2024

मुंबई. बॉलीवुड के भाईजान सलमान खान के अपार्टमैंट की बालकानी में हुए गोलीकांड के तार लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़े होने का पुख्ता सबूत क्राइम ब्रांच के हाथ लगा है। दरअसल गोलीकांड के आरोपियों के फोन से मिली रिकार्डिग की फॉरेंसिक जांच कराने पर अहम खुलासा हुआ है। जांच में सामने आया है कि सलमान खान के घर पर हुई फायरिंग के लिए गैंगस्टर लॉरेंस का भाई अनमोल हमलावरों को इंस्ट्रक्शन दे रहा था। मुंबई पुलिस ने सेंट्रल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी से अनमोल के ऑडियो सैंपल लिए और आरोपियों के मोबाइल में मिले ऑडियो को फोरेंसिक लैब भेजा था। यह सैंपल मैच हो गया है।


सलमान के घर गैलेक्सी अपार्टमेंट पर 14 अप्रैल को सुबह पांच बजे दो हमलावरों ने फायरिंग की थी। फायरिंग करने के दो दिनों बाद मुंबई क्राइम ब्रांच ने गुजरात से आरोपी विक्की गुप्ता और सागर पाल को गिरफ्तार किया था। मुंबई पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, 14 अप्रैल को सलमान के घर पर दो बाइक सवार हमलावरों ने 7.6 बोर की बंदूक से 4 राउंड फायर किए थे। फोरेंसिक एक्सपर्ट को मौके से एक लाइव बुलेट मिली थी। इस हमले की जिम्मेदारी लॉरेंस ग्रुप ने ली थी।



आरोपियों पर लगाई थी मकोका की धाराएं 
पुलिस ने मामले की जांच करते हुए 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। इन सभी आरोपियों पर मकोका की धाराएं लगाई गई थीं। मामले में गिरफ्तार हुए एक आरोपी अनुज थापन ने पुलिस कस्टडी में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। अनुज ने इस मामले में फायरिंग करने वालों को हथियार मुहैया करवाए थे। आरोपी अनुज थापन के सुसाइड की जांच राज्य की CID को सौंपी गई। इस घटना के दो महीने बाद हाल ही में मुंबई पुलिस ने सलमान खान और उनके दोनों भाइयों सोहेल और अरबाज का बयान दर्ज किया है।


सलमान ने पुलिस से कहा- 'बार-बार अलग-अलग लोगों के निशाने पर आने से मैं थक गया हूं। पहले भी कई बार धमकियां मिल चुकी हैं, जुर्माने लगे हैं। कई केसों में फंसा हूं। मैं फ्रस्ट्रेट हो चुका हूं। मैं पहले से ही कोर्ट से सजा पा चुका हूं।' एक्टर ने बताया कि 14 अप्रैल की सुबह गोलियों की आवाज सुनकर ही उनकी नींद खुली थी। वे बालकनी में आए, लेकिन वहां कोई नहीं था।